PM Kisan Sarkari News Sarkari Yojna Hindi

PM Kisan के भेजे गए 12-12 हजार रुपये, यदि नहीं मिले तो यहाँ करें संपर्क

Pradhan Mantri Kisan Samman Nidhi Yojana :- नमस्कार दोस्तों, देश के सभी पीएम किसान योजना के लाभार्थियों के खाते मे 12-12 हजार रुपये भेजे गए हैं| जैसा की आप सभी को पता होगा की इस पीएम किसान योजना की पहली क़िस्त 1 दिसंबर 2018 मे भेजी गई थी और इस साल तक इस योजना की पाँचवी क़िस्त भेजी गई हैं| केंद्र सरकार ने सभी लाभार्थी किसानों के खाते मे 2000 रुपये की छठी क़िस्त अगस्त महीने में भेजी हैं| यानि की केंद्र सरकार ने अभी तक सभी लाभार्थी किसानों के खाते मे 12 हजार रुपये भेज चुकी हैं|

आपको यह भी बता दें की यह सहायता राशी सिर्फ उन्ही लाभार्थी किसानो के खाते मे भेजी गई है, जिनका सारा रिकॉर्ड दुरुस्त रहा हैं| आप सभी जानते होंगे की इस प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत सभी पंजीकृत किसानों के खाते मे सलाना 6000 रुपये की आर्थिक मदद भेजी जाती हैं| यह सहायता राशी हर साल तिन किस्तों मे भेजी जाती हैं| इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सभी किसानों को पंजीकरण करवाना होता हैं| अब तक केंद्र सरकार की इस योजना का लाभ करोड़ो किसान उठा चुके हैं|

यदि आप भी इस योजना के तहत पात्र हैं और आपने आवेदन भी किया हैं परंतु आपके खाते मे पैसे नहीं आए हैं तो आप अपना रिकॉर्ड दुरुस्त करवा सकते हैं| आपको बता दें आपके आवेदन मे किसी भी प्रकार की गड़बड़ी मिलती हैं तो आपका फॉर्म पास नहीं हो पाता और आप इस योजना से वंचित रह जाते हैं| इन मामूली गलतियों को सुधारने के लिए कहीं जाने की जरुरत तो नहीं है बल्कि आप घर बैठे हमारे बताए गए तरिके के अनुसार सुधार सकते हैं|

पीएम किसान योजना की क़िस्त लेने के लिए इन गलतियों से बचें

यदि आपने पीएम किसान योजना के लिए आवेदन किया है लेकिन अभी भी इस योजना की एक भी क़िस्त नहीं आ रही हैं तो इसका मुख्य कारण यह है की कई सारे आवेदनकर्ताओं के नाम और बैंक अकाउंट नंबर में गड़बड़ी है| बैंक अकाउंट और अन्य कागजातों में नाम की स्पेलिंग भिन्न है| जिसकी वजह से स्कीम का ऑटोमेटिक सिस्टम उसे पास नहीं करता|

इसके अलावा किसानों को फॉर्म के साथ आधार कार्ड और बैंक अकाउंट समेत कई सारे दस्तावेज बैंक मे जमा करने होते हैं| कई किसानों के इन दस्तावेजों मे आधार कार्ड और बैंक बैंक अकाउंट मे नाम अलग अलग होते हैं| इसी जानकारी देते हुए पीएम किसान योजना के सीईओ विवेक अग्रवाल ने कहा की ऐसे किसानों की संख्या करीब 70 लाख है|

इस पीएम किसान योजना के पैसे के लिए अप्लाई करने के बावजूद देश भर के करीब 1.3 करोड़ किसान सालाना 6000 रुपये के लाभ से वंचित हैं| कई जिले ऐसे हैं जहां पर सवा-सवा लाख किसानों का डेटा वेरीफिकेशन के लिए पेंडिंग है| ऐसे किसानों के खाते मे अभी तक एक भी क़िस्त नहीं भेजी जा सकी है|

पीएम किसान योजना मे अपना रिकॉर्ड ऐसे करें दुरुस्त

यदि आपने भी अपने आवेदन फॉर्म मे कहीं ये गलतियाँ कर चुके हैं तो आप इसे पीएम किसान योजना के ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर सुधार सकते हैं| इन गलतियों को सुधारने के लिए निचे दी गई प्रक्रिया को फॉलो करें :-

  • सबसे पहले पीएम किसान सम्मान निधि योजना के ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करें|
  • इसके होम पेज पर “फार्मर कार्नर” टैब के अन्दर “Edit Aadhar Details” के लिंक पर क्लिक करें|
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक फॉर्म आएगा आधार नंबर डालकर, अपनी नाम वाली गलती सुधार सकते हैं|
  • इस तरह आप सभी अपने नाम की गलती ऑनलाइन सुधार सकते हैं|

वहीं इन गलतियों की जगह फॉर्म भरते हुए अगर आप कुछ और गलती कर बैठे हैं तो इसके लिए आपको लेखपाल या कृषि विभाग कार्यालय से संपर्क करना होगा| वहां से आप सभी अपनी गलतियों को आसानी से सुधार सकते हैं|

इस प्रकार आप अपनी गलती सुधार कर इस पीएम किसान योजना की अगली क़िस्त का लाभ उठा सकते हैं| यदि आपको अभी भी अपनी गलतियों को सुधारने मे परेशानी हो रही हैं, तो आप निचे दिए गए नंबर्स पर कॉल कर सकते हैं| आप हमसे भी योजना से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने के लिए निचे कमेंट बॉक्स मे अपना सवाल पूछ सकते हैं|

पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर

अगर किसानों के पास पीएम किसान सम्मान निधि योजना के बारे में कोई प्रश्न है, तो वे सीधे टोल-फ्री नंबर पर संपर्क कर सकते हैं जो कि 011-23381092 है या pmkisan-ict@gov.in पर अपने प्रश्न भेज सकते हैं|

  • पीएम किसान टोल फ्री नंबर- 18001155266 , 155261
  • पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर – 0120-6025109

Leave a Comment