Sarkari News

आपका नाम भी कट सकता है राशन कार्ड से, यदि तीन महीने से नहीं लिया है अनाज

Names Will be Removed From Ration Cards :- नमस्कार दोस्तों, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग बहुत जल्द ही जाली और फर्जी नाम के आधार पर राशन कार्ड वाले व्यक्तियों से नाम काटने जा रही हैं| राशन कार्ड से नाम काटे जाने पर इन लोगों को खाद्य पदार्थ का वितरण नहीं हो सकेगा| जिन व्यक्ति के नाम से पिछले तिन महीने से खाद्य पदार्थ जारी नहीं हुआ हैं उनका नाम अब राशन कार्ड से काट दिया जाएगा|

देश मे ऐसे बहुत से लोग हैं जो फर्जी नाम पर और गलत जानकारी देकर राशन कार्ड का लाभ उठा रहे हैं| ऐसे फर्जी राशन कार्ड के कारण बहुत गड़बड़ी होती हैं और बिचौलिय इसका फायदा लाभ उठा लेते हैं| लेकिन अब इसकी जानकारी खाद्य विभाग को प्राप्त हो चुकी हैं, इसलिए अब विभाग इन सभी लोगो का नाम राशन कार्ड से काटने वाली हैं| हालांकि इससे पहले सत्यापन और दूसरी औपचारिकता पूरी की जाएगी|

जैसा की आप सभी को पता होगा की खाद्य एवं आपूर्ति विभाग ने 31 जुलाई तक सभी राशन कार्ड को आधार से लिंक कराने का आदेश दिया हैं| लेकिन अभी तक देश मे ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्होंने ने अभी तक राशन कार्ड से आधार लिंक नहीं कराया हैं| ऐसे लोगों का राशन रोक दिया जाएगा, लिंक कराने के बाद ही उन्हें राशन फिर से प्रदान किया जाएगा| इसके बाद भी अगर वे राशन कार्ड से आधार लिंक नहीं करते हैं तो फिर इनका नाम काट दिया जाएगा|

ये भी देखें :- Good News: बिना राशन कार्ड के मिलेगा मुफ्त मे 5 किलो अनाज, पुरी जानकारी यहाँ से प्राप्त करें

राशन कार्ड को आधार से लिंक करना है जरुरी

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना (NFSA) ने राशन कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला लिया हैं| राशन की कालाबाजारी रोकने के लिए राशन कार्ड को अब आधार कार्ड से लिंक कराना जरुरी हो होगा| इसके लिए विभाग ने राशन कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने के लिए 31 जुलाई 2020 तक का समय दिया है|

विभाग को अंदेशा है कि इनमें से कई मामले फर्जी हो सकते हैं, यानी विभाग का मानना है कि उनमें से कई ऐसे हैं जो आज भी मौजूद नहीं हैं, लेकिन इसके बावजूद, उनके नाम के राशन से फर्जी तरीके से खाद्य पदार्थ उठाया जा रहा है| इसके बाद यह तय किया गया की अब ऐसे व्यक्तियों का नाम राशन कार्ड से काट दिया जाएगा|

ये भी देखें :- अब नवंबर तक मिलेगा फ्री अनाज | PM मोदी ने की घोषणा

राशन कार्ड को आधार से जोड़ने का फैसला

अभी तक प्रशासनिक ढिलाई के कारण राशन कार्ड के सभी सदस्य आधार कार्ड से नहीं जुड़े थे| यहीं से सार्वजनिक वितरण प्रणाली को कालाबाजारी का शक हुआ| जिन लोगों का राशन कार्ड आधार से लिंक नहीं है| उनके हिस्से का खाद्य पदार्थ कालाबाजारी में जा रहा है और उनका डीलर इसका फायदा उठा रहे हैं|

केंद्र सरकार ने हाल मे ही “वन नेशन वन राशन कार्ड योजना” को लागु किया हैं, इसमें भी आगे जाकर कोई इसी तरह का कालाबाजारी सामने ना आये इसलिए सरकार ने आधार कार्ड को राशन कार्ड से जोड़ने का फैसला लिया हैं| अब आपको निचे राशन कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने का तरिका बताया गया हैं|

ये भी देखें :- एक देश एक राशन कार्ड योजना अप्लाई ऑनलाइन

राशन को आधार से लिंक करने लिए प्रत्येक राशन दुकान की पीओएस मशीन सहित दुकान विक्रेता, ग्राम सचिव, नोडल अधिकारी की ड्यूटी लगाई गई है| प्रत्येक 10 दुकानों पर एक सुपरवाईजर और ब्लॉक स्तर से सहकारिता निरीक्षक, खाद्य निरीक्षक को मॉनीटरिंग की जिम्मेदारी दी गई है|

यदि आप अपना नाम नहीं कटवाना चाहते हैं तो करे ये काम

जो भी राशन कार्ड के लाभार्थी अपना राशन कार्ड आधार कार्ड से लिंक करवाना चाहते हैं वे सभी 31 जुलाई 2020 तक ई-मित्र अथवा ग्राम के पटवारी या सचिव के स्तर से संपर्क करके आधार कार्ड को राशन कार्ड से लिंक करवा सकते हैं|

राशन कार्ड से आधार लिंक करने की वजह से आपका नाम नहीं काटा जाएगा| यदि आपको अभी भी इससे सम्बंधित कोई जानकारी चाहिये तो आप अपना सवाल निचे कमेंट बॉक्स मे पूछ सकते हैं|

ये भी देखें :- मुफ्त राशन नहीं मिल रहा है तो करें इस नंबर पर कॉल, होई सख्त कारवाई

Leave a Comment